कैसे करें अंग्रेजी भाषा के पेपर की बैंक परीक्षा के लिए तैयारी, पाएं सफलता

Published on : 4th June 2018
all

सभी प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं में एक चीज सामान्य होती है। इनमें तैयारी के लिए अलग-अलग किताबों से पढ़ना होता है। बैंक रिक्रूटमेंट समेत विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में प्रत्येक टॉपिक की अलग बुक होती है। अगर हम अंग्रेजी विषय की बात करें तो सभी बैंक परीक्षा में यह विषय शामिल हैं। आपको निश्चित रूप से इस सेक्शन में पढ़ने की समझ और उत्तर के सवालों का अध्ययन करने की आवश्यकता होती है।

आमतौर पर बड़ी सख्या में कैंडिडेट्स बैंक परीक्षा के लिए अप्लाई करते हैं।परीक्षाओं में एसबीआई (State Bank of India), आईबीपीएस (Institute of Banking Personnel Selection) बैंक परीक्षा शामिल हैं।

अगर आईबीपीएस पीओ (IBPS) 2018 परीक्षा के पैटर्न की बात करें तो आमतौर पर रीजनिंग, अंग्रेजी भाषा, सामान्य ज्ञान, मात्रात्मक और कंप्यूटर ज्ञान से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। स्टूडेंट्स को इन विषयों में सबसे ज्यादा मुश्किल अंग्रेजी के पेपर में होती है। अगर अंग्रेजी के बेसिक्स स्पष्ट है तो इस विषय में अंक लाना बहुत ही आसान है।

यह सब्जेक्ट स्कोरिंग होता है। अंग्रेजी भाषा के लिए व्याकरण और शब्दावली का ज्ञान होना चाहिए। कई बार स्टूडेंट्स के बेसिक्स स्पष्ट नहीं होने पर पेपर में कम अंक आते हैं। जिसका कारण होता है, इसकी अच्छे से तैयारी ना होना और अधूरा ज्ञान होना।

टॉपिक्स -

बोध - इसमें बैंकिंग, अर्थशास्त्र, बिजनेस, सोशल मामले पर पैसेज आते हैं। समय बचाने के लिए अधिक से अधिक प्रैक्टिस करें।

व्याकरण - पेपर में खाली स्थान, त्रुटि सही, वाक्य पूर्णव्यवस्थित करना जैसे टॉपिक्स पूछे जाते हैं। इसके लिए ऑनलाइन पेपरों से प्रैक्टिस करें।

मौखिक क्षमता - पेपर में क्रम में लगाना जैसे प्रश्न पूछे जाते हैं।

ऐसे करें अंग्रेजी भाषा की तैयारी -

  1. बैंक परीक्षा में अंग्रेजी भाषा के विशेष टॉपिक्स पर ध्यान दें जैसे वाक्यांश और मुहावरे, खाली स्थान, प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष काल, वाक्य पूर्णव्यवस्थित करना, त्रुटि सही करना आदि। इन टॉपिक्स की अच्छे से प्रैक्टिस की होनी चाहिए।
  2. बोध (Reading Comprehension) - यदि आपके पास पर्याप्त अभ्यास है तो आप आसानी से बोध टॉपिक को हल कर सकते हैं। इसमें टैक्स को समझने की समझहोनी चाहिए।
  3. व्याकरण (Grammar) - व्याकरण के इस्तेमाल और बेसिक्स स्पष्ट होने चाहिए। व्याकरण ठीक करने के लिए अंग्रेजी बोलने की प्रैक्टिस करनी चाहिए। इससे गलतियों का पता चलता है। वाक्य डायग्राम व्याकरण ध्यान रखने में मदद करते हैं।
  4. शब्दावली (Vocabulary) - शब्दावली की ज्यादा से ज्यादा प्रैक्टिस करें।
  5. मौखिक (Verbal Ability) - मौखिक टॉपिक से संबंधित प्रश्नों में शब्दावली का ज्ञान काम आता है। जितना संभव हो उतने ऑनलाइम क्विज़ से अभ्यास करें। वे आपको प्रत्येक प्रश्न के लिए समय प्रबंधन के साथ और अधिक व्यवस्थित बना देंगे।

इन बातों का रखें ख्याल -

  • इसके लिए सबसे पहले उचित योजना बनानी होगी कि कितने समय में क्या-क्या पूरा करना है।
  • एक बार में एक ही टॉपिक का अध्ययन करें। एक टॉपिक के पूरा होने पर दूसरे टॉपिक को पढ़ना शुरू करें।
  • हर रोज तैयारी करने के लिए टॉपिक्स को अलग-अलग करें। जितना हो उतना अभ्यास करें। इसके लिए आईबीपीएस प्रैक्टिस टेस्ट और मोक टेस्ट की सहायता लें।
  • आईबीपीएस (IBPS) परीक्षा के पिछले सालो के प्रश्न पत्र का अध्ययन करें।
  • परीक्षा के समय पर सही फूड, अच्छी नींद लें और सारी परेशानियों के अपने से दूर रखें।

जो भी स्टूडेंट्स बैंकिंग फील्ड में अपना कॅरियर बनाना चाहते हैं उन्हें सारे टॉपिक्स को पढ़ने की आदत डालना आवश्यक है।


Available Application Forms

all Previous Years Solved Papers



0 Comments