बेस्ट और आसान बैंक परीक्षा की तैयारी करने की टिप्स, ऐसे करें तैयारी

Published on : 31st May 2018    Author : Swati Rathore
all

बैंकिंग सेक्टर में कॅरियर बनाने के लिए लाखों स्टूडेंट्स अप्लाई करते हैं। बैंको में सबसे पॉपुलर आईबीपीएस (Institute of Banking Personnel Selection) परीक्षा है। हर साल लाखों से ज्यादा इस परीक्षा के लिए कैंडिडेट्स अप्लाई करते हैं। एसबीआई और आईबीपीएस विभिन्न पदों के लिए भर्तियां निकालता है।

कैंडिडेट्स बैंकिंग परीक्षा के लिए अप्लाई करने के बाद बैंक परीक्षा की तैयारी करने लग जाते हैं। आईबीपीएस (IBPS) बैंक परीक्षा के बारे में संपूर्ण जानकारी होना आवश्यक है। आईबीपीएस विभाग कई परीक्षाएं पीओ, क्लर्क, एसओ और आरआरबी परीक्षाएं आयोजित कराता है।

आईबीपीएस (IBPS) परीक्षा की प्रक्रिया-

आईबीपीएस परीक्षा तीन चरणों में पूरी होती है- पहला चरण प्रारंभिक परीक्षा (IBPS Preliminary Exam) फिर दूसरा चरण है मुख्य परीक्षा (Mains Exam) और आखिरी चरण में हिस्सा लेने वाले योग्य कैंडिडेट्स तीसरे चरण साक्षात्कार (Interview) में भाग लेते हैं। आईबीपीएस क्लर्क (IBPS Clerk) परीक्षा में इंटरव्यू नहीं होता।

परीक्षा

पहला चरण

दूसरा चरण

तीसरा चरण

आईबीपीएस पीओ परीक्षा

प्रारंभिक

मुख्य

साक्षात्कार

आईबीपीएस एसओ परीक्षा

-

मुख्य

साक्षात्कार

आईबीपीएस आरआरबी

प्रारंभिक

मुख्य

साक्षात्कार

आईबीपीएस क्लर्क परीक्षा

प्रारंभिक

मुख्य

-

Scroll left or right to view full table

आईबीपीएस परीक्षा में नेगेटिव मार्केंग 0.25 अंक से की जाती है। स्टूडेंट्स अंदाजा लगाकर उत्तर ना दें नहीं तो अंक काट लिए जाएंगे।प्रश्नों के सही उत्तर आने पर ही जवाब दें।

बैंक परीक्षा के लिए टिप्स-

बैंक परीक्षा की तैयारी के लिए सबसे पहले आपको आईबीपीएस परीक्षा का सिलेबस जानना आवश्यक है। ये मुख्य विषय हैं-

  • रीजनिंग (Reasoning)
  • अंग्रेजी भाषा (English Language)
  • समान्य ज्ञान (General Knowledge)
  • डेटा व्याख्या और विश्लेषण(Data interpretation and analysis)
  • Computer (कंप्यूटर)

ध्यान रहें- आईबीपीएस मुख्य  (IBPS Main) परीक्षा के मात्रात्मक योग्यतासेक्शन को डेटा व्याख्या और विश्लेषण कर दिया गया है।

टिप्स-

रीजनिंग-सभी प्रतियोगिता परीक्षाओंविषयों में रीजनिंग सामान्य और स्कोरिंग पेपर है। यदि आपकी इस विषय पर अच्छी कमान है तो आप आसानी से अपने स्कोर को बढ़ा सकते है। इसमें अधिकतर प्रश्न तार्किक और मौखिक में से आते है। इस सेक्शन में शॉर्टकट टिप्स से अच्छे स्कोर प्राप्त कर सकते हैं। 

सामान्य ज्ञान-इस विषय में राजनीतिक, सामाजिक, भारतीय अर्थव्यवस्था, व्यापार, बाजार, कृषि, वित्त, पुरस्कार, भारतीय संविधान, मीडिया, खेल, भारतीय रिजर्व बैंक और बैंकिंग से जुड़े अपडेट से अवगत रहना होता है। यदि आप देश की दैनिक घटनाओं और गतिविधियों को ध्यान में रखते हैं, तो इसमेंअच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं।

अंग्रेजी- आमतौर पर अंग्रेजी भाषा के पेपर में स्टूडेंट्स कम अंक ला पाते हैं। इसके लिए बेसिक्स स्पष्ट होने चाहिए। टॉपिक्स स्पष्ट होने पर अंक विषय में लाना बहुत ही आसान है। व्याकरण और शब्दावली पर विशेष ध्यान दें।

कंप्यूटर ज्ञान-बैंक परीक्षा में कंप्यूटर का ज्ञान होना आवश्यक होता है। इस विषय में भी अच्छे अंक प्राप्त किए जा सकते है। कंप्यूटर ज्ञान स्कोरिंग पेपर होता है। कंप्यूटर बेसिक प्रश्न, ऑपरेटिंग सिस्टम कार्य, बुनियादी इंटरनेट ज्ञान और प्रोटोकॉल, इनपुट और आउटपुट डिवाइस, नेटवर्किंग शॉर्टकट एवं बेसिक ज्ञान, एमएस वर्ड, एमएस एक्सेल, एमएस पावर प्वाइंट, कम्प्यूटर शॉर्टकट आदि से संबंधित टॉपिक से प्रश्न पूछे जाते हैं।

डेटा व्याख्या और विश्लेषण-डेटा व्याख्या इस पेपर का मुख्य भाग है। इस सेक्शन के सवालों को करने में सबसे ज्यादा समय लगता है। इसमें सारणीकरण, पाई चार्ट, रेखा चार्ट, लाइन ग्राफ और बार चार्ट आदि के प्रश्न आते हैं। स्टूडेंट्स को शॉर्ट कट फॉर्मूले और ट्रिक्स पता होनीचाहिए।


Available Application Forms

all Previous Years Solved Papers



0 Comments