डीयू में पीजी, एमफिल और पीएचडी कोर्स के रजिस्ट्रेशन शुरू, होगी ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा

Last Modified: 27 Nov 2022

दिल्ली यूनिवर्सिटी (DU) प्रवेश परीक्षा के लिए नई योजना बना रही है। छात्रों को पोस्ट ग्रेजुएट, एमफिल और पीएचडी कोर्स के लिए ऑनलाइन प्रवेश देनी होगी। इस साल से डीयू ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा आयोजित करेगा।

डीयू के वरिष्ठ अधिकारी का कहना है किकार्यकारी परिषद (ईसी) के अनुसार, अब से पीजी, एमफिल और पीएचडी कोर्स के लिए ऑनलाइन टेस्ट कराया जाएगा। ईसी दिल्ली विश्वविद्यालय का उच्चतम सांविधिक निकाय है। नई नीतियों मे संशोधन किए जाएंगे। यह नियम पहले ही लागू किया जाना था, लेकिन किसी कारण से नहीं हुआ।

दिल्ली विश्वविद्यालय ने 50 से ज्यादा पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स पेश किए हैं। खास तौर पर यह प्रवेश परीक्षा डीयू के बाहर छात्रों के लिए है। इसमें कम से कम 50 प्रतिशत सीट आरक्षित हैं। बाकी की सीट डीयू के छात्रों के लिए है, जिन्होंने अपनी ग्रेजुएशन डीयू से की है।

पीजी प्रवेश परीक्षा के लिए 55 प्रतिशत अंक से पीजी कोर्स पास करना अनिवार्य है। इसके अलावा डीयू छात्रों के लिए 60 प्रतिशत अंक अनिवार्य हैं। लेकिन डीयू के जरिए यह परीक्षा आयोजित नहीं कराई जाएगी। प्राइवेट संगठन टेस्ट आयोजित और परिणाम घोषित करेगा।

पीजी, एमफिल और पीएचडी ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा कम से कम 18 शहरों में आयोजित कराई जाएगी। रिपोर्ट के अनुसार, पिछले साल ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा के लिए प्रस्ताव रखा गया था, लेकिन छात्रों का नीति और संशोधन के खिलाफ प्रदर्शन करने की वजह से इस साल यह योजना लागू की जा रही है।

ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा में बहुविकल्पीय प्रकार के प्रश्न पूछे जाएंगे। टेस्ट दो भाषाओं अंग्रेजी और हिंदी में आएगा। परीक्षा तीन शिफ्ट में आयोजित की जाएगी।

दिल्ली विश्वविद्यालय में पीजी, एमफिल और पीएचडी ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा होने की वजह से छात्रों को फायदा होगा। इससे नकल करने की घटनाएं कम होंगी और छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं होगा। छात्रों के सुनहरे भविष्य के लिए ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा सफल रहेगी

Click Here To Read This News In English

0 Comments