एसएससी (SSC CGL) 2017 पेपर लीक पर हजारों छात्रों का विरोध-प्रदर्शन, सीबीआई जांच की कर रहे हैं मांग

Last Modified: 07 Dec 2022

एसएससी सीजीएल 2017 टीयर-2(SSC CGL Tier II) परीक्षा के पेपर लीक होने से छात्रों ने प्रदर्शन करना शुरू कर दिया हैं। छात्रों की ओर से एसएससी आयोग से सीबीआई (CBI) द्वारा जांच कराने की मांग की जा रही है। छात्र 17 फरवरी को परीक्षा के प्रश्न पत्र और उसके जवाब लीक होने का विरोध कर रहे हैं। इस परीक्षा घोटाले को लेकर हजारों की संख्या में छात्रों का गुस्सा भीषण रूप ले रहा है।

पिछले 4-5 दिन से चल रहे प्रदर्शन में छात्रों ने पेपर लीक होने पर एसएससी (Staff Selection Commission) की परीक्षा में बड़े स्तर पर हो रही गड़बड़ी का आरोप लगाया है और सीबीआई से जांच कराने की मांग की गई है। ताकि पेपर लीक में जो दोषी शामिल हैं उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा सके। छात्रों का कहना है कि नौकरी उनकी योग्यता के आधार पर मिलनी चाहिए न कि पैसों पर।

बुधवार को संसद मार्ग की ओर छात्र प्रदर्शन करने जा रहे थे, लेकिन उन्हें लोधी एस्टेट पहुंचे पर पुलिस टीम ने रोक लिया था। रविवार को पेपर लीक की नाराजगी से छात्रों ने सीजीओ कॉम्पलेक्स के पास प्रदर्शन किया, जिसकी वजह से जेएलएन मेट्रो स्टेशन को बंद रखा गया था।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली के बाद भोपाल में भी 22 फरवरी को पेपर लीक होने की खबर आई थी। जब उम्मीदवारों ने पेपर शुरू किया तो पहले से ही प्रश्न पत्र में उत्तर मार्क किए हुए थे।

राजनैतिक पार्टियां कांग्रेस, आप और बीजेपी भी छात्रों के समर्थन में आगे आ रही है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करके कहा कि केंद्र को एसएससी घोटाले की जांच सीबीआई द्वारा छात्रों की मांग तुरंत मान कर करानी चाहिए।

रविवार को सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने सैकड़ों एसएससी सीजीएल (SSC CGL) उम्मीदवारों से मुलाकात की और अहिंसा के रास्ते पर चलने के लिए आग्रह किया। उन्होंने इस संबंध में कार्रवाई करने के लिए सरकार से भी मांग की।

Read This News In English

0 Comments