यूपीएससी आईईएस (UPSC IES) 2017 परीक्षा का प्रारूप और पाठ्यक्रम

Last Modified: 28 Sep 2022

अभियांत्रिकी स्नातकों की भर्ती के लिए यूपीएससी आईईएस (UPSC Indian Engineering Services) परीक्षा आयोजित की जाती है। इस परीक्षा में पास होने पर अभ्यर्थियों को रेलवे, रोड, रक्षा, दूरसंचार आदि सेक्टर में नौकरी मिलती है।

भारतीय अभियांत्रिकी सेवा (Indian Engineering Services) परीक्षा 2017 में चार श्रेणियां हैं- सिविल अभियांत्रिकी, इलेक्ट्रिकल अभियात्रिकी, इलेक्ट्रॉनिक और टेली-संचार अभियात्रिकी और मैकेनिकल अभियांत्रिकी। उम्मीदवार 26 अक्टूबर 2016 तक आवेदन कर सकते हैं।

जानिए इस लेख में इस परीक्षा के प्रारूप और पाठ्यक्रम के बारे में... 

आईईएस (IES) परीक्षा का प्रारूपः

भारतीय अभियांत्रिकी सेवा (IES) तीन चरण में होती है।

  1. प्रारंभिक )Prelims) परीक्षा
  2. प्रमुख (Mains) परीक्षा
  3. साक्षात्कार (Interview)
  • प्रारंभिक (Prelims) परीक्षा में दो पेपर होते हैं। एक पेपर 2 घंटे का और दूसरा पेपर 3 घंटे का होता है।
  • इस परीक्षा में सफल होने के बाद मुख्य परीक्षा के लिए आवेदक योग्य होते हैं। इसमें किसी प्रश्न का उत्तर गलत देने पर 1/3 नकारात्मक अंकन किए जाएंगे।
  • मुख्य (Main) में भी 2 पेपर होते हैं।
  • आखिर में आवेदक को प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा के अंक के आधार पर बाद में साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है।

पाठ्यक्रमः

पेपर 1- सामान्य अध्ययन और अभियांत्रिकी योग्यता।

पेपर 2- उम्मीदवार द्वारा चुने गए विशिष्ट अभियांत्रिकी विषय जैसे सिविल अभियांत्रिकी/ इलेक्ट्रिकल अभियांत्रिकी /इलेक्ट्रॉनिक्स और टेली-कम्युनिकेशन/अभियांत्रिकी और मैकेनिकल अभियांत्रिकी आदि।

महत्वपूर्ण तिथियां:

  1. आवेदन पत्र जारी होने की तारीख- 28 सितंबर 2016
  2. आवेदन पत्र की अंतिम तारीख- 26 अक्टूबर 2016
  3. प्रारंभिक परीक्षा की तारीख- 8 जनवरी 2017
  4. प्रमुख परीक्षा की तारीख- 14 मई 2017

IES/ESE Exam Previous Years Solved Papers

  • UPSC Civil Services & IFS Preliminary Solved Papers (E-Book) Download
  • IES 2009 - 2018 Previous Year Papers E-Book Download

0 Comments