सीबीएसई (CBSE) 12वीं परीक्षा 2018-छात्रों के भौतिक विज्ञान पेपर में इन वजहों से आते हैं मार्क्स कम

Last Modified on : 19 Jan 2022    Author : Tanvi Mittal
all

सीबीएसई (CBSE) 2018 की 12वीं परीक्षा 5 मार्च से शुरू होने जा रही है। साइंस स्ट्रीम के छात्रों का फिजिक्सका पेपर 7 मार्च को आयोजित किया जाएगा। इस पेपर में छात्र बहुत छोटी-छोटी गलतियां करते हैं, जिससे उनके मार्क्स कम आते हैं।

हरियाणा विद्या मंदिर स्कूल की अनुभवी शिक्षक शम्पा चक्रवर्ती ने बताया कि छात्र इस भौतिक विज्ञान के पेपर में छोटी-छोटी गलतियां कर बैठते हैं, जिस वजह से उनके अंक में कटौती हो जाती है।इन अशुद्धियों को आसानी से टाला जा सकता है। इसके लिए आपको कुछ बातों को ध्यान में रखने की जरूरत होती है।

इन 10 साधारण गलतियों से इन तरीकों से बचा जा सकता है-

  1. 12वीं कक्षा 2018 के भौतिक विज्ञान परीक्षा के प्रश्नों के उत्तर अंकों के अनुसार होने चाहिए। 1 अंक वाले प्रश्न का उत्तर आधे या पूरे पेज का नहीं होना चाहिए।
  2. संख्यात्मक प्रश्न को करने के लिए उसका फार्मूला लिखकर समय बर्बाद ना करें। ऐसा करने से अंक काट लिए जाते हैं। छात्रों को इस बात का जरूर ध्यान रखना चाहिए।
  3. छात्र अक्सर गलती से फार्मूले में अंश और छोर को उल्टा कर देते हैं। ऐसे करने पर आखिर गलत ही उत्तर आएगा। इससे छात्रों के अंक कट जाते हैं। यह गलती कई स्टूडेंट्स करते हैं।
  4. भौतिक विज्ञान के पेपर में सबसे साधारण गलती जो स्टूडेंट्स करते हैं, वो फार्मूले कोऐसे 1/c= 1/c1+1/c2लिखने की बजाएइस तरीके से c= 1/c1+1/c2 लिखते हैं।
  5. छात्रों को 2 अंक वाले प्रश्नों के उत्तर सही तरीके से 3-4 वाक्य में देने चाहिए, ना कि एक वाक्य में।
  6. जिन प्रश्नों में डायग्राम की मांग होती हैं, उन्हें पैंसिल और साफ-सुथरे तरीके से बनाएं।
  7. प्रश्न पत्र में अलग-अलग अंक के प्रश्न दिए होते हैं। अंकों के अनुसार उत्तर देने जरूरी होते हैं। कई बार स्टूडेंट्स महत्वपूर्ण चीजों को भूल जाते हैं। प्रश्न पत्र के हर पार्ट को ध्यान से पढ़ें और उत्तर दें।
  8. 1 अंक वाले प्रश्नों के उत्तर हां या नहीं में देने के साथ कारण भी बताना होता है। इससे पूरे अंक मिलते हैं। कई बार 1 अंक वाले प्रश्न दो पार्ट में बांटे हुए होते हैं। एक पार्ट आधे मार्क्स का होता है।
  9. हर प्रश्न का उत्तर लिखने के साथ-साथ प्रश्न नंबर लिखना जरूरी होता है, लेकिन स्टूडेंट्स खासकर यह गलती करते हैं। गलत प्रश्न नंबर लिखने से छात्रों के अंक कटने के ज्यादा चांस होते है। गलत प्रश्न नंबर लिखने से सही उत्तर होने पर भी नुकसान उठाना पड़ता है।

तो स्टूडेंट्स इन दी गई गलतियों को इग्नोर करें। और परीक्षा की अच्छे से तैयारी करें।



0 Comments