यूपी बोर्ड (UPSEB) 10वीं और 12वीं के रिजल्ट हुए जारी, यहां देखें एग्जाम रिजल्ट

Last Modified: 24 May 2022

यूपी बोर्ड (Uttar PradeshSecondary Education Board) 10वीं और 12वीं परीक्षा 2018 के रिजल्ट जारी कर दिए गए हैं। स्टूडेंट्स अपना परिणाम आधिकारिक वेबसाइट www.upresults.nic.in पर जाकर डाउनलोड कर सकते हैं। इस साल 12वीं परीक्षा में 72.43 पर्सेंट स्टूडेंट्स पास हुए हैं, जिसमें 72.27 प्रतिशत लड़के और 78.81 प्रतिशत लड़कियां पास हुए हैं।

इस साल, फतेहपुर के रजनीश शुक्ला और बाराबंकी के आकाश मौर्य ने 12वीं बोर्ड परीक्षा में 466 अंक (93.2 प्रतिशत) के साथ टॉप किया है। दूसरे नंबर पर गाजीपुर की अनन्या राय ने 92.6 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं।

यूपी 10वीं बोर्ड परीक्षा में अंजली वर्मा ने 96.33 प्रतिशत अंक से टॉप किया है। दूसरे नंबर पर फतेहपुर की यशशवी ने 94.5 प्रतिशत स्कोर हासिल किए हैं।

ऐसे देखें 10वीं का परिणाम-

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट www.upresults.nic.in पर जाएं।
  • होमपेज पर यूपी बोर्ड कक्षा 10वीं परिणाम पर क्लिक करें।
  • स्टूडेंट्स रोल नंबर से लॉग इन करें।
  • आखिर में पीडीएफ डाउनलोड करके प्रिंटआउट निकाल सकते हैं।

ऐसे देखें 12वीं का परिणाम-

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट www.upresults.nic.in पर जाएं।
  • होमपेज पर यूपी बोर्ड कक्षा 12वीं परिणाम पर क्लिक करें।
  • स्टूडेंट्स रोल नंबर से लॉग इन करें।
  • आखिर में पीडीएफ डाउनलोड करके प्रिंटआउट निकाल सकते हैं।

इसके अलावाएसएमएस के द्वारा भी रिजल्ट देख सकते हैं। मैसेज में ‘UP12’ लिखे स्पेस दें और रोल नंबर लिखकर इसके बाद मैसेज 56263 नंबर पर भेज दें।

अबकी बार कुल 66,37,018 स्टूडेंट्स ने यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए पंजीकरण कराया था, जिसमें से 10वीं के लिए 36,55,691 और 12वीं के लिए 29,81,327 स्टूडेंट्स शामिल थे। यूपी 10वीं और 12वीं परीक्षाएं 6 फरवरी और 12 मार्च के बीच आयोजित की गई थी।

यूपी बोर्ड (UP Board) रिजल्ट 2018-

  1. यूपी बोर्ड परीक्षा में करीब 66 लाख छात्रों ने परीक्षा में भाग लिया था, जिसमें 29,81,327 स्टूडेंट्स ने 12वी कक्षा और 36,55,691 स्टूडेंट्स ने 10वीं कक्षा परीक्षा के लिए पंजीकरण कराया था।
  2. खास बात यह है कि यूपी बोर्ड के इतिहास में पहली बार परिणाम अप्रैल में जारी किया जाएगा। नहीं तो हर साल मई के महीने में जारी किया जाता था।
  3. डिप्टी चीफ मिनिस्टर दिनेश शर्मा ने बताया कि अबकी बार 11 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स ने परीक्षा नहीं दी है। 75 प्रतिशत छात्र बांगलादेश और नेपाल से हैं।
  4. पहली बार टॉपर्स के द्वारा उत्तर ऑनलाइन अपलोड किए जाएंगे। अन्य स्टूडेंट्स अपना ग्रेडिंग उत्तर देख सकते हैं। ये प्रक्रिया स्टूडेंट्स की मदद करेगी।
  5. पिछले साल प्रसेंटेज 10वीं परीक्षा की 81.8 प्रतिशत और 12वीं परीक्षा की 82.62 प्रतिशत आई थी। अबकी बार स्टूडेंट्स और भी अच्छे अंक की उम्मीद कर रहे हैं।
  6. छात्रों के पास रिजल्ट आने के बाद पेपर री-चेकिंग का भी ऑप्शन होगा। अगर उनकों अपने नंबरों को लेकर आपत्ति होती है, तो वो आवेदन कर सकते हैं।
  7. अगले साल से बोर्ड परीक्षा के लिए 9वीं और 11वीं परीक्षा स्टूडेंट्स के लिए आधार कार्ड अनिवार्य होगा। उन्हें आधार कार्ड की कॉपी के साथ आवेदन पत्र सबमिट करना होगा।

इस यूपी बोर्ड के महत्वपूर्ण तथ्य से छात्रों को अपने परिणाम डाउनलोड करने में मदद मिलेगी।

Click Here To Read this News In English

0 Comments