जेएनयू प्रवेश परीक्षा (JNUEE) 2017-18 का रिजल्ट हुआ घोषित, मेरिट लिस्ट इस दिन होगी जारी

Last Modified: 14 Aug 2022

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) ने प्रवेश परीक्षा 2017-18 का रिजल्ट जारी कर दिया है। परिणाम वेबसाइटपर अपलोड कर दिए गए हैं। परीक्षार्थी अपना रिजल्ट यहां www.jnu.ac.in देख सकते हैं।

जेएनयूईई (JNU Entrance Examination) 2017 प्रवेश परीक्षा 27 से लेकर 30 दिसंबर तक देश के 53 शहरों में आयोजित की गई थी। रिपोर्ट के अनुसार, इसमें करीब 1.5 लाख कैंडिडेट्स ने भाग लिया था।

ऐसे करें डाउनलोड रिजल्ट-

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट www.jnu.ac.inपर जाएं।
  • होमपेज पर एडमिशन टैब पर क्लिक करके रिजल्ट 2017-18 पर फिर से क्लिक करें।
  • पंजीकरण नंबर या आवेदन नंबर सबमिट करें।
  • आपका परिणाम आ जाएगा।
  • इसके बाद डाउनलोड कर प्रिंटआउट निकाल सकते हैं।

सीटों की संख्या-

छात्र अलग-अलग प्रोग्राम के अनुसार नीचे टेबल में सीटों की संख्या देख सकते हैं।

कार्यक्रम

सीटें

एम.फिल/पीएचडी प्रोग्राम (MPhil, PhD Pogramme)

720

बीए यूजी प्रोग्राम (BA UG Programme)

459

एमए, एमएससी, एमटेक, एमपीएच पीजी प्रोग्राम (MA, MSC, M.Tech, MPH PG Programme)

1118

पार्ट-टाइम प्रोग्राम (डिप्लोमा और सर्टिफिकेट प्रोग्राम) (Part Time Programme)

240

Scroll left or right to view full table

चयनित प्रक्रिया-

  • प्रवेश परीक्षा के बाद उम्मीदवारों को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाएगा।
  • इंटरव्यू के बाद योग्य कैंडिडेट्स की मेरिट तैयार की जाएगी। आखिर में अंतिम परिणाम मेरिट लिस्ट के जरिए वेबसाइट पर जारी किया जाएगा।
  • बीए प्रथम वर्ष, एमसीए, एमए, एमएससी कार्यक्रम के परिणाम केवल मेरिट लिस्ट के द्वारा घोषित किए जाएंगे।

 महत्वपूर्ण तारीखें-

लिखित परीक्षा पर आधारित वाइवा

20 मार्च 2018

शुल्क जमा करने की अंतिम तिथि

28 जुलाई 2018

वेटिंग लिस्ट रजिस्ट्रेशन

30-31 जुलाई 2018

दाखिला करने की अंतिम तिथि

14 अगस्त 2018

Scroll left or right to view full table

 जेएनयू (Jawaharlal Nehru University) के बारे में-

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) भारत में महत्वपूर्ण विश्वविद्यालय है। शिक्षण और अनुसंधान के लिए विश्व का प्रसिद्ध केंद्र है। राष्ट्रीय आकलन और प्रत्यायन परिषद (एनएएसी) द्वारा यह भारत में एक नंबर रैंक पर है। इसे साल 2017 में भारत के राष्ट्रपति से सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालय पुरस्कार भी मिल चुका है।

read This News In English

0 Comments