एकेटीयू के छात्रों को एनपीटीईएल (NPTEL) ऑनलाइन कोर्सेज की मिलेगी सुविधा

Published on : 5th February 2018
UPSEE Exam

अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी(AKTU) ने छात्रों को एनपीटीईएल (NPTEL) पाठ्यक्रम से जोड़ने का फैसला लिया है। पायलेट प्रोजेक्ट के आधार पर यूनिवर्सिटी से संबद्ध 278 संस्थानों के अंतिम वर्ष के स्टूडेंट्स को मूक्स (Massive Open Online Courses) के माध्यम से ऑनलाइन कोर्स की सुविधा दी जाएगी। यह 278 संस्थान एनपीटीएल के लोकल चैप्टर में पंजीकृत किए गए हैं।

यह प्रोजेक्ट मूक्स का हिस्सा है, जिसके लिए एकेटीयूने आईआईटी कानपुर से समझौता किया है। जुलाई 2018 से छात्रों के लिए एक ऑनलाइन कोर्स करना अनिवार्य हो जाएगा। इस कोर्स की समय सीमा 40 घंटे हैं।

इन ऑनलाइन कोर्स के कई फायदे है। इससे कक्षा में बैठना जरूरी नहीं है। स्टूडेंट्स को सब अध्ययन सामग्री ऑनलाइन प्रदान की जाएगी। यह सामग्री हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषा में उपलब्ध होगी।

आईआईटी मद्रास (IIT Madras) के प्रो. विनीत कंसल की ओर से एकेटीयू में स्नातक कोर्सों के लिएऔरगैर-पारंपरिक ऊर्जा संसाधन विषय के लिए ऑनलाइन लेक्चर तैयार किया जा रहा है। ऑनलाइन व्याख्यान के लिए आईआईटी मद्रास के प्रोफेसर द्वारा तैयार किया जा रहा है। यह ऑनलाइन कोर्स 10 फरवरी को लॉन्च किया जाएगा।

फायदे-

छात्रों के लिए ऑनलाइन माध्यम से कोर्स करना और परीक्षा देना एक अलग अनुभव होगा। ऑनलाइन पढ़ने की सुविधा वर्तमान की आवश्यकता बनती जा रही है। देश के विभिन्न शीर्ष संस्थानों के प्रोफेसर के द्वारा तैयार की गई अध्ययन सामग्री और लेक्चरों से पढ़ना अलग अनुभव होगा।

एनपीटीईएल (NPTEL) का लाभ यूपी के इंजीनियरिंग के छात्रों और वहां के शिक्षकों को मिलेगा। अपने पाठ्यक्रम के अनुसार पढ़ाई आसानी से ऑनलाइन कर सकेंगे। लर्निंग पोर्टल पर इंजीनियरिंग के कई कोर्स फ्री में उपलब्ध है। इसलिए एकेटीयू ने इसकी और कदम बढ़ाया है।

इस प्रोजेक्ट में टीचिंग, व्याख्यान, सामग्री निर्माण रिसर्च और विकास शामिल होगा। आईआईटी कानपुर (IIT Kanpur) शिक्षा और तकनीकी प्रशिक्षणके आधार पर ओपन ऑनलाइन कोर्स स्कीम एनपीटीईएल के द्वारा एकेटीयू के छात्रों के लिए प्रदान करेगी। आईआईटी कानपुर एकेटीयू के शिक्षकों को वर्कशॉप देकर प्रशिक्षित करेगा।

Click Here To Read This News In English


Recommended Books for UPSEE Exam 2019


Available Application Forms


Comments